OOPS प्रोग्रामिंग क्या है। OOPS की विशेषताएं बताइये।

प्रोग्रामिंग के चार Paradigm होते है। Procedural प्रोग्रामिंग, Logical प्रोग्रामिंग, Functional प्रोग्रामिंग और OOPS प्रोग्रामिंग। लेकिन इस ब्लॉग में हम OOPS प्रोग्रामिंग क्या है। Procedural प्रोग्रामिंग क्या है। OOPS की मूल अवधारणा और OOPS की विशेषताएं के बारे में। तथा OOPS प्रोग्रामिंग और Procedural प्रोग्रामिंग में क्या अन्तर होता है। इन सब के बारे में जानने की कोशिश करते है।

OOPS प्रोग्रामिंग क्या है।

OPPS का पूरा नाम Object Oriented Programming होता है। यह प्रोग्रामिंग का एक Paradigm है। जो Object की अवधारणा पर आधारित है। इसमें डेटा और Function दोनों शामिल होते है। इसमें Real World Entity के अनुरूप प्रोग्रामिंग किया जाता है। इसमें प्रोग्रामर एक वस्तु और दूसरे वस्तु के बीच में सम्बन्ध बना सकते है। इस प्रोग्रामिंग Paradigm में Procedural प्रोग्रामिंग के कमियो को दूर किया गया है। OOPS प्रोग्रामिंग को निम्नलिखित प्रोग्रामिंग लैग्वेज इस्तेमाल करती है। जैसे- Java, C++, Python, C#, PHP, Perl और Swift इत्यादि।
oops in hindi

Procedural प्रोग्रामिंग क्या है।

Procedural प्रोग्रामिंग भी एक प्रोग्रामिंग Paradigm है। जिसमें प्रोग्राम के Instruction को एक क्रम में लिखा जाता है। इसमे सभी Instruction एक-एक लाइन करके Excute होते है। इस प्रोग्रामिंग में पूरा ध्यान Function पर होता है। इसको Structured लैग्वेज भी कहा जाता है। Procedural प्रोग्रामिंग को निम्नलिखित प्रोग्रामिंग लैग्वेज इस्तेमाल करती है। जैसे- C, COBOL, Pascal, BASIC और Fortran इत्यादि।

OOPS की मूल अवधारणा।

OOPS की मूल अवधारणा इस प्रकार है।

Class

Class उपयोगकर्ता द्वारा Define किया गया Object का Blueprint या Prototype होता है। जो किसी एक प्रकार के Object का समूह होता है। और Object में उपलब्ध Behavior और गुणधर्म को परिभाषित करता है। जैसे- Hero, Bajaj, TVS और Honda ये सब बाइक है। और ये बाइक Class के सदस्य है।

Object

यह Class का Instance होता है। Object एक Real World Entity होता है। जिसका अपना व्यवहार और गुणधर्म होता है। यह Object के Create होने पर मेमोरी में Space लेता है। Object एक Runtime Entity होता है। इसे Runtime में ही Create किया जाता है।

Encapsulation

Encapsulation में डाटा और Function को एक Single Unit में एक साथ Bind किया जाता है। इसमें डाटा को Class के बाहर Direct नही Access किया जा सकता है। इसे Class के Function के द्वारा ही Access किया जा सकता है। Encapsulation की वजह से डाटा सुरक्षित रहता है।

Inheritance

OOPS प्रोग्रामिंग में Inheritance एक महत्वपूर्ण Feature होता है। इसमें एक Class के गुणधर्म को किसी दूसरे Class में Inherit किया जा सकता है। जो Class गुणधर्म देती है वह Super Class तथा जो Class गुणधर्म लेती है वह Sub Class कहलाती है। Inheritance में Class को Reuse करने का Feature होता है।

Abstraction

OOPS प्रोग्रामिंग में Abstraction एक ऐसा Feature है। जिसमें Object के आवश्यक जानकारी को ही दिखाया जाता है। तथा अनावश्यक जानकारी को Background में Hide रखा जाता है। जैसे- जब हम ATM मशीन से Cash निकालते है तो Cash तो निकल जाता है। लेकिन ATM के अन्दर के Process को Hide रखा जाता है।

Polymorphism

Polymorphism दो शब्द Poly + Morphism से मिलकर बना है। जिसका अर्थ अनेक रूप होना होता है। इसमें किसी एक कार्य को दो अलग-अलग तरीको से किया जा सकता है। OOPS प्रोग्रामिंग में Polymorphism को Method Overloading और Method Overriding दो तरीको से Achieve किया जाता है।

OOPS की विशेषताएं।

OOPS की निम्नलिखित विशेषताएं होती है।
1- इस प्रोग्रामिंग में लिखे गये Code को समझने में आसानी होती है।
2- इस प्रोग्रामिंग में लिखे गये Code को Reuse किया जा सकता है।
3- इसमें प्रोग्राम का Structure सरल और Complexity कम होता है।
4- इस प्रोग्रामिंग में Function और डाटा की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जाता है।
5- इसमें प्रोग्राम को Design करना और संशोधन करना आसान होता है।

OOPS प्रोग्रामिंग और Procedural प्रोग्रामिंग में अन्तर।

OOPS प्रोग्रामिंग और Procedural प्रोग्रामिंग में निम्नलिखित अन्तर होते है।
No OOPS प्रोग्रामिंग Procedural प्रोग्रामिंग
1 OOPS प्रोग्रामिंग में प्रोग्राम Objects में विभाजित होता है। Procedural प्रोग्रामिंग में प्रोग्राम Functions में विभाजित होता है।
2 यह डाटा की अधिक Security प्रदान करता है। यह डाटा की कम Security प्रदान करता है।
3 OOPS प्रोग्रामिंग Down-Top Approach को Follow करता है। Procedural प्रोग्रामिंग Top-Down Approach को Follow करता है।
4 इसमें Access Specifier (Public, Protected, Private) इस्तेमाल होता है। इसमें कोई Access Specifier इस्तेमाल नही होता है।
5 OOPS प्रोग्रामिंग में Java, C++, Python, C#, PHP, Perl और Swift इत्यादि प्रोग्रामिंग लैंग्वेज आती है। Procedural प्रोग्रामिंग में C, COBOL, Pascal, BASIC और Fortran इत्यादि प्रोग्रामिंग लैंग्वेज आती है।

एक टिप्पणी भेजें